शायरी

जीवन अधूरा है अर्धांगिनी बिना,
ज्यों दिल अधूरा है धड़कन बिना।।

~ सुनील जोगपुरिया