कद

झुक कर मिलते हैं अक्सर वही ,
जिनके कद बड़े हुआ करते हैं ,
शोर मचाते हैं साहिल पर लहरें ,
समंदर से सीख , कैसे शांत रहा करते हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *