तड़प दो तरफा थी …

तड़प? दो तरफा? थी प्यार? में ,
फर्क बस इतना था कि वो जता दिए ✍️ और हम जिम्मेदारियों तले छिपा ? दिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *