तारो ने कहा ✍

आसमान को देखा तो तारो ने
जवाब दिया , तु अकेला नहीं है,
तेरे जैसे अनगिनत को में हर रोज
देखता हूँ, कोई मुश्किलों से टुट जाता
है, तो कोई इससे जीत कर निखर जाता है..

CategoriesUncategorized

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *