कठिन

Part 3
कठिन हो जाता है ,
बेहतर तरीके से कार्य को करना ,
असफल होना और निराशा भरना ,
कठिन हो जाता है ,
आशावादी विचारों की पनाह में पनपना,
और मानसिक तनाव से ग्रस्त होना ,
कठिन हो जाता है,
अपनी प्रकृति को किसी के समकक्ष रखना ,
फिर अचानक खुद ही उस को अचानक से हटाना ,
कठिन हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *