??????????
शायर तो हम है शायरी बना देंगे
आपको शायरी मे क़ैद कर लेंगे|

कभी सूनाओ हमे अपनी आवाज़
आपकी आवाज़ को हम ग़ज़ल बना देंगे.||
??????????

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *