अभी न परदा गिराओ… …

अभी न परदा गिराओ…
…ठहरो
कि दास्तां आगे और भी है
कि इश्क़ गुज़रा है…
…इक जहाॅं से
इक जहाॅं
…आगे और भी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *