अपनापन, परवाह, आदर …

अपनापन, परवाह, आदर और वक्त

    यह वो दौलत है, जिससे बड़ा

     किसी को देने के लिए कोई

‌ उपहार नहीं होता…!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *