ना हद का पता ना दीवा…

ना हद का पता ना दीवानगी का ना किसी फितूर का इल्म
बस इतना है पता कि दुनिया मुझे तेरे इश्क़ में पागल समझती है……

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *