जरूरी तो नहीं तुम.. …

जरूरी तो नहीं तुम..
मेरी सारी ख्वाईशों को मांनो..
दहलीज पर रख दी है अर्जी..
आगे तुम जानों…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *