जाके समंदर के किनार…

जाके समंदर के किनारे तुम,_अपने हाथों में पानी उठा लेना

 *जितना उठा लो वो चाहत तुम्हारी और जो न उठा सको वो मुहब्बत हमारी*.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *