रिश्ते आजकल रोटी की …

रिश्ते आजकल रोटी की तरह हो गए हैं

जरा सी आॅंच तेज क्या हुई जलकर…

खाक हो जाते हैं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *