इशरत-ए-कतरा है दरिया…

इशरत-ए-कतरा है दरिया में फना हो जाना,
दर्द का हद से गुजरना है दवा हो जाना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *