इत्तफ़ाक़ से तो नहीं…

इत्तफ़ाक़ से तो नहीं टकराते
हम सब ए दोस्तों,

 थोड़ी साज़िश तो

‌ खुदा की भी रही होगी…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *