यूॅं ना झांको इस क़द…

यूॅं ना झांको इस क़दर
‌ मेरी रुह के अंदर…

कुछ ख़्वाहिशें मेरी वहाॅं
बे-लिबास रहती है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *