जब हमारा संबंध भगवान…

जब हमारा संबंध भगवान
से निरंतर होता है, तब

हमारा जीवन कीचड़ में
कमल समान हो जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *