जिन पत्थरों को, हमने…

जिन पत्थरों को, हमने अता की थी धड़कनें,
वो बोलने लगे, तो हमी पर बरस पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *