परिवार

अर्थ की भागम भाग में
मीलों पीछे छूट गए हैं,
रिश्ते नातेदार ।
टूट रहे हैं घर परिवार ।
सूख रहा है प्रेम और प्यार ।
परिवारों का इस पीढ़ी ने
ऐसा सत्यानाश किया कि,
आने वाली पीढ़ियां सिर्फ
किताबों में पढ़ेंगी —-
“वन्स अपॉन अ टाइम,
देयर वाज लिवींग
जोइंट फैमिली इन इंडिया
दैट इज कॉल्ड परिवार”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *