हम तेरी किस किस बात …

हम तेरी किस किस बात का गम करें
इस से अच्छा है कि बाते कम करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *