दीपक का जीवन इसलिये …

दीपक का जीवन इसलिये वन्दनीय नहीं है

कि वह जलता है ….!

……अपितु……

इसलिये वन्दनीय है

कि वह दूसरों के लिये जलता है ….!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *