मन की आँखों से प्रभु…

मन की आँखों से
प्रभु का दीदार करो
दो पल का है अँधेरा
बस सुबह का इंतजार करो
क्या रखा है
आपस के बैर मे ए जिंदगी
बस हर किसी से प्यार करो ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *