खुद से क्या शर्माना …

खुद से क्या शर्माना
खुद को कबूलना ही ज़िन्दगी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *