उदास होने के लिए उम्…

उदास होने के लिए उम्र पड़ी है,
नज़र उठाओ सामने ज़िंदगी खड़ी है,

अपनी हँसी को होंठों से न जाने देना!
क्योंकि हमारी मुस्कुराहट के पीछे
दुनिया पड़ी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *