इज़ाज़त हो तो लिफाफे म…

इज़ाज़त हो तो लिफाफे में रखकर,
कुछ वक़्त भेज दूं

सुना है कुछ लोगों को फुर्सत नहीं है
मुझे याद करने की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *