क़दर करना सीख लो सा…

क़दर करना सीख लो साहब….

ना ज़िंदगी बार बार आती है….
ना हम जैसे लोग… ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *