कभी साथ बैठो… तो क…

कभी साथ बैठो…
तो कहूँ कि दर्द क्या है…

अब यूँ दूर से पूछोगे…
तो ख़ैरियत ही कहेंगे !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *