गुरु वही श्रेष्ठ होत…

गुरु वही श्रेष्ठ होता है जिसकी प्रेरणा से
किसी का चरित्र बदल जाये
और..
मित्र वही श्रेष्ठ होता है
जिसकी संगत से रंगत बदल जाये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *