चेहरा देख कर … इंस…

चेहरा देख कर …
इंसान पहचानने की ..
कला थी मुझमें ..

तकलीफ़ तो तब हुई …
जब …
इन्सानों के पास ..
चेहरे बहुत थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *