कुछ यूँ हुआ कि जब भी…

कुछ यूँ हुआ कि जब भी जरूरत पड़ी मुझे…

हर शख्स इत्तेफ़ाक़ से मजबूर हो गया ll

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *