राहे मोहब्बत में अज…

राहे मोहब्बत में
अजब पत्थरों से वास्ता रहा मेरा

ना ज़ख्म नज़र आया
और ना ही दर्द सहा गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *