इस जहाँ में किसे भला…

इस जहाँ में किसे भला सच्चा प्यार मिला है;
गुजर रही है जिंदगी इम्तिहान के दौर से;
एक ख़तम तो दूसरा तैयार मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *