इश्क़ कमाल

कच्ची उम्र के उफानो में जो बह जाए वो इश्क़ क्या

झुर्रियों में भी खिलखिलाए वो इश्क़ कमाल होता है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *