मेरी मसरूफियत के हर …

मेरी मसरूफियत के हर लम्हे में शामिल है तू ,
सोच मेरी फुर्सतों में क्या आलम होता होगा…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *