अनजान अगर हो तो गुज़र…

अनजान अगर हो तो गुज़र क्यूँ नहीं जाते…..

पहचान रहे हो तो ठहर क्यूँ नहीं जाते…!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *