घर तो अंदर ही अंदर ट…

घर तो अंदर ही अंदर टूट जाते हैं,

मकान खड़े रहते हैं बेशरमों की तरह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *