बिछड़ते वक़्त मेरे हर …

बिछड़ते वक़्त मेरे हर ऐब को गिनाया उसने..
सोच रहा हूँ जब मिला था उससे……
तब कौन सा हुनर था मुझमें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *