पलकों के बांध तोड़ क…

पलकों के बांध तोड़ के दामन पे आ गिरा,
एक आंसू मेरे सब्र कि तौहीन कर गया……

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *